Monday, May 10, 2010

दोस्‍त ने गद्दार कहा

बातों-बातों में उसने गद्दार कहा
हमने फिर भी उसे यार कहा
पलभर में वो सब भूल गया
हमने इसे उसका प्‍यार कहा
पर दिल में चूभ गई टीस सी
उसने हमें शक का शिकार कहा
किससे गिला करें, सफाई किसे दें
उसने हमें दिमाग से बीमार कहा

----------------------------
----------------------------

2 comments:

Udan Tashtari said...

बढ़िया है अभिव्यक्ति..

दिलीप said...

waah bahut khoob...

हिचकारा : लखनऊ का अश्‍लील और गौरवपूर्ण काव्‍य प्रेम

प्रतीकात्‍मक तस्‍वीर।                                                          साभार: गूगल इमेज।     आइए जानें लखनऊ का विशाल इतिहास। ह...